फसल सिफारिशें

कीट प्रबंधन - रबी फसल - कुसुम

कीट -यूरोलिकॉन कम्पोजिटी थियोबाल्ड

प्रचलित नाम - माहो (ऐफिड)

क्षति

  • क्षति ये कीड़े पत्तियों तथा तनों का रस चूसकर नुकसान करते हैं।
  • पौधे डेढ़ से दो माह के होने तक कीट प्रकोप अधिक होता है।

आई.पी. एम

  • नत्रजन का अधिक उपयोग न करें।
  • देर से बोनी न करें।
  • खेत का अनुकूल परिस्थितियों पर माहो के लिये निरीक्षण करें।
  • नियंत्रण के उपाय शुरूवात की अवस्था में करें।

नियंत्रण

  • कीटनाशकों का उपयोग आर्थिक देहली स्तर को पार करने पर ही करना चाहिए।
  • एफिड के लिए आर्थिक देहली स्तर 50-70 कीट प्रति पौधा (टहनी का शीर्ष 5 से.मी.) ।
  • इनका प्रकोप रोकने के लिये रोगर 750 मि.ली. प्रति हेक्टर या डायमेक्रान 250 मि.ली. प्रति हेक्टर का छिड़काव करें।

कीट -पेरीजिया केपेनसिस्

प्रचलित नाम - खाने वाली इल्ली

क्षति

  • इल्लियां पत्तों को खाकर पौधों को नष्ट कर देती हैं।

आई.पी. एम

  • आई.पी.एम. को देखें।

नियंत्रण

  • कीटनाशकों का उपयोग आर्थिक देहली स्तर को पार करने पर ही करना चाहिए।
  • कार्बोरिल 10 प्रतिशत डस्ट 25 किलो प्रति हेक्टर के हिसाब से भुरकाव करना चाहिये।

कीट - हेलिकोवर्पा आर्मीजेरा हबनर

प्रचलित नाम - फली छेदक

क्षति

 

आई.पी. एम

 

नियंत्रण

  • कीटनाशकों का उपयोग आर्थिक देहली स्तर को पार करने पर ही करना चाहिए।